टैग: Dr. Neelam Mahendra

Forgetten thoughts by Dr neelam Mahendra

आधुनिक विचारों में हमारे कुछ मौलिक विचार कहीं खो गए

नारी, स्त्री, महिला वनिता,चाहे जिस नाम से पुकारो नारी तो एक ही है। ईश्वर की वो रचना जिसे उसने सृजन की शक्ति दी है, ईश्वर की वो कल्पना जिसमें प्रेम… Read more »

Yoga is a way of life

योग स्वयं की स्वयं के माध्यम से स्वयं तक पहुँचने की यात्रा है

योग के विषय में कोई भी बात करने से पहले जान लेना आवश्यक है कि इसकी सबसे बड़ी विशेषता यह है कि आदि काल में इसकी रचना, और वर्तमान समय… Read more »

Youth in India

देश बदलना है तो देना होगा युवाओं को सम्मान

भारत एक युवा देश है। इतना ही नहीं, बल्कि युवाओं के मामले में हम विश्व में सबसे समृद्ध देश हैं। यानि दुनिया के किसी भी देश से ज्यादा युवा हमारे… Read more »

Amit shah Yogi adityanath and PM Modi

उपचुनावों के आधार पर लोकसभा चुनाव 2019 आंकना होगी भूल

19 मार्च को योगी आदित्यनाथ, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में अपने कार्यकाल का एक वर्ष पूर्ण कर रहे है। भारी बहुमत, जनता की अपेक्षाओं और आशीर्वाद के बीच… Read more »

Political opposition in India

विरोध की कमजोर नींव पर खड़ी विपक्षी एकता

देश के वर्तमान राजनैतिक पटल पर लगातार तेजी से बदलते घटनाक्रमों के अनर्तगत ताजा घटना आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने के मुद्दे पर वित्तमंत्री अरुण जेटली के… Read more »

International Women's Day

क्यों ना इस महिला दिवस पुरुषों की बात हो?

“हम लोगों के लिए स्त्री केवल गृहस्थी के यज्ञ की अग्नि की देवी नहीं अपितु हमारी आत्मा की लौ है, रबीन्द्र नाथ टैगोर।” 8 मार्च को जब सम्पूर्ण विश्व के… Read more »

Nirav Modi

नीरव मोदी को नीरव मोदी बनाने वाला कौन है?

एक तरफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश में भ्रष्टाचार खत्म करने की बात कर रहे हैं तो दूसरी तरफ देश  के एक प्रमुख बैंक में 11400 करोड़ रुपए का घोटाला सामने… Read more »

Narendra Modi And P Chidambaram

भारत में अभी भी पकौड़े और चाय में बहुत स्कोप है साहब!

“साधु ऐसा चाहिए जैसा सूप सुभाय। सार सार को गहि रहै थोथा दे उड़ाय।। ” कबीर दास जी भले ही यह कह गए हों, लेकिन आज सोशल मीडिया का जमाना… Read more »

Sanjay leela Bhansali

क्या संजय लीला भंसाली निर्दोष हैं?

26 जनवरी 2018, देश का 69 वाँ गणतंत्र दिवस, भारतीय इतिहास में पहली बार दस आसियान देशों के राष्ट्राध्यक्ष समारोह के मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित, पूरे देश के… Read more »

New Year eve Party

डूबते सूरज की विदाई नववर्ष का स्वागत कैसे?

पेड़ अपनी जड़ों को खुद नहीं काटता, पतंग अपनी डोर को खुद नहीं काटती, लेकिन मनुष्य आज आधुनिकता की दौड़ में अपनी जड़ें और अपनी डोर दोनों काटता जा रहा… Read more »